Friday, July 19, 2024
spot_img
Homeराजनीतिहिमाचल: इस्‍तीफा मंजूर नहीं हुआ.. तो धरने पर बैठे तीनों निर्दलीय विधायक;...

हिमाचल: इस्‍तीफा मंजूर नहीं हुआ.. तो धरने पर बैठे तीनों निर्दलीय विधायक; दी ये चेतावनी

शिमला। हिमाचल प्रदेश की राजनीति में आजकल अजब गजब के खेल देखने को मिल रहे हैं। एक तरफ जहां हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप पठानिया ने व्हिप जारी कर कांग्रेस के छह बागियों को एक ही दिन में अयोग्य घोषित करने का फैसला दिया था वहीं अब तीन निर्दलीय विधायकों का इस्तीफा सात दिन गुजर जाने के बाद भी स्वीकार नहीं किया गया है। इस्तीफा स्वीकार ना किए जाने से नाराज यह तीनों निर्दलीय विधायक आशीष शर्माए होशियार सिंह और केएल ठाकुर आज यानी शनिवार को विधानसभा अध्यक्ष के चैंबर के बाहर धरने पर बैठ गए हैं।

होशियार सिंह, आशीष शर्मा केएल केएल ठाकुर

निर्दलीय विधायकों का कहना है कि स्पीकर ने एक सप्ताह बाद भी उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। तीनों निर्दलीय विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं। तीनों निर्दलीय विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष पर सरकार के दबाव में आकर इस्तीफा स्वीकार न करने के आरोप लगाए हैं। निर्दलियों ने चेताया कि यदि दो दिन में इस्तीफे मंजूर नहीं किए तो कोर्ट जाएंगे। सुप्रीम कोर्ट जाएंगे या हाईकोर्ट, इस बारे में लीगल सेल से बात चली है।

22 मार्च को दिया था इस्तीफा

प्रदेश के इन तीनों निर्दलीय विधायकों ने 22 मार्च को विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप पठानिया को अपना विधानसभा सदस्यता से त्यागपत्र सौंपा था, जिसके अगले ही दिन यानी 23 मार्च को इन तीनों ने दिल्ली में बीजेपी की सदस्यता ले ली थी।

यह भी पढ़ें: कंगना ने मंडयाली में शुरू किया प्रचार, पहले रोड शो में PM मोदी पर खेला दांव

यह तीनों निर्दलीय विधायक अपने अपने क्षेत्रों में उपचुनाव लड़ना चाहते हैं। लेकिन जब तक इनका इस्तीफा मंजूर नहीं हो जाता, इनके क्षेत्रों में उपचुनाव नहीं हो सकता। बता दें कि विधानसभा स्पीकर कुलदीप सिंह पठानिया इन दिनों हिमाचल से बाहर हैं। वह विदेश दौरे पर हैं और उनका मंगलवार को प्रदेश लौटने का कार्यक्रम है।

दो विधायकों की शिकायत पर निर्दलीय को भेजा था नोटिस

बता दे कि तीनों निर्दलीय विधायकों के त्यागपत्र को लेकर सुक्खू सरकार के दो कैबिनेट मंत्रियों जगत सिंह नेगी व रोहित ठाकुर ने विधानसभा स्पीकर को शिकायत की थी। शिकायत में कहा गया कि पांच साल के लिए चुन कर आए विधायक 15 माह में त्यागपत्र दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें : धूमल का राजनीतिक जीवन किया था खत्म, आज राणा उन्हीं का आशीर्वाद….

लगता है कि इन पर कोई दबाव है। इस पर स्पीकर ने निर्दलीय विधायकों को नोटिस भेज कर उनसे 10 अप्रैल को पक्ष रखने को कहा है। ऐसे में त्यागपत्र मंजूर न होने से तीनों विधायक असमंजस में हैं।

आशीष शर्मा के खिलाफ विधायकों की खरीद फरोख्त की शिकायत

हमीरपुर के निर्दलीय विधायक आशीष शर्मा को विधानसभा सचिवालय की ओर से एक नोटिस भी जारी किया गया है। यह नोटिस कांग्रेस के सात विधायकों की शिकायत पर दिया गया है। सात विधायकों द्वारा दी गई शिकायत में निर्दलीय विधायकों पर खरीद फरोख्त के आरोप लगाए गए हैं।

https://www.facebook.com/news4himalayans

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments