Wednesday, July 24, 2024
spot_img
Homeराजनीतिसुधीर शर्मा को लगा एक और झटका: ऋषिकेश पहुंचे सभी बाग़ी विधायक

सुधीर शर्मा को लगा एक और झटका: ऋषिकेश पहुंचे सभी बाग़ी विधायक

सुधीर शर्मा के समर्थकों की ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की भंग

शिमला। हिमाचल कांग्रेस ने अपने बागी विधायकों पर कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे पहले जहां धर्मशाला के विधायक सुधीर शर्मा को अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सचिव पद से हटाने के आदेश जारी किए गए थे। उसके बाद अब प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने ब्लॉक कांग्रेस कमेटी को धर्मशाला को तुरंत प्रभाव से भंग कर दिया है।

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी को भंग करने के आदेश प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला और प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह की मंजूरी के बाद दिए गए हैं। इसको लेकर पार्टी के संगठन महासचिव रजनीश किमटा ने आदेश भी जारी कर दिए हैं।

सुधीर शर्मा के समर्थकों की ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की भंग

बता दें कि ब्लॉक कांग्रेस कमेटी में सुधीर समर्थकों को जगह दी गई थी। सुधीर समर्थक राज कुमार को ब्लॉक कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया था। लेकिन अब सुधीर शर्मा के बागी होने के बाद कांग्रेस ने बीसीसी अध्यक्ष राजकुमार की पूरी टीम को भंग कर दिया है।

उम्मीद जताई जा रही है कि लोकसभा चुनाव से पहले अब यहां पर नई कार्यकारिणी बनाई जाएगी। कांग्रेस की सुधीर शर्मा पर लगातार कार्रवाई जारी है। इससे पहले हिमाचल की कांग्रेस सरकार ने धर्मशाला नगर निगम में तैनात सुधीर शर्मा समर्थक नामित पार्षदों के मनोनयन को भी रद्द कर चुकी है।

पंचकूला से ऋषिकेश पहुंचाए सभी विधायक

वहीं दूसरी तरफ हिमाचल कांग्रेस के सभी छह बागी विधायक और तीन निर्दलीय विधायकों को पंचकूला से उत्तराखंड पहुंचा दिया गया है। उन्हें ऋषिकेश के एक निजी रिजॉर्ट में ठहराया गया है। सभी 9 विधायकों को चंडीगढ़ से एक चार्टेड प्लेन से ऋषिकेश ले जाया गया।

इन विधायकों के साथ हिमाचल बीजेपी के तीन बड़े नेता भी ऋषिकेश में गए हैं। जो इन 9 विधायकों के साथ ही ठहरे हुए हैं। ऋषिकेश ले जाए गए विधायकों में कांग्रेस के सुधीर शर्मा, राजेंद्र राणा, देवेंद्र भुट्टो, रवि ठाकुरए इंद्रदत्त लखनपाल, चैतन्य शर्मा और तीन निर्दलीय विधायक केएल ठाकुरए होशियार सिंह और आशीष शर्मा शामिल हैं।

सीआरपीएम और उत्तराखंड पुलिस के पहरे में विधायक

बताय जा रहा है कि इस रिजॉर्ट के बाहर सीआरपीएफ और उत्तराखंड पुलिस का कड़ा पहरा है। किसी को भी इन विधायकों से मिलने नहीं दिया जा रहा है। वहीं होटल में भी किसी अनजान शख्स को एंट्री नहीं दी जा रही है। यहां तक कि बागी विधायकों को होटल से बाहर आने तक की अनुमति भी नहीं है।

क्या बीजेपी कर रही ऑपरेशन लोट्स की तैयारी

सूत्रों की मानें तो इस होटल में छह कमरे बुक किए गए हैं। जिसमें कांग्रेस के छह बागी विधायक, तीन निर्दलीय विधायक और भाजपा के तीन नेताओं के साथ दो अन्य लोग रह रहे हैं। यह भी बताया गया है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भी उनसे नहीं मिले हैं।

बताया जा रहा है कि जब यह विधायक पंचकूला के होटल में रूके थे, तब इनसे कई नेता और मंत्री मिलने आ जा रहे थे। इसी के चलते इन सभी विधायकों को अब ऋषिकेश ले जाया गया है। जानकारों की मानें तो बीजेपी ऑपरेशन लोट्स की तैयारी कर रही है। जिसके चलते ही इन विधायकों को हिमाचल से दूर रखा गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments