Wednesday, July 24, 2024
spot_img
Homeराजनीतिजयराम ठाकुर का दावा: 4 जून को देश के साथ-साथ हिमाचल में...

जयराम ठाकुर का दावा: 4 जून को देश के साथ-साथ हिमाचल में बनेगी बीजेपी सरकार

जयराम ठाकुर ने कहा है कि केंद्र में तीसरी बार बीजेपी की सरकार बनेगी और नरेंद्र मोदी पीएम पद की शपथ लेंगे। वहीं 4 जून को हिमाचल में भी बीजेपी की सरकार बनेगी।

शिमला। हिमाचल में सत्ता परिवर्तन होने वाला है। 4 जून को देश के साथ साथ हिमाचल में भी बीजेपी की सरकार बनेगी। यह दावा किया है हिमाचल के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व सीएम जयराम ठाकुर ने। जयराम ठाकुर ने कहा है कि 4 जून को जहां देश में बीजेपी की सरकार बनेगी और पीएम मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनेंगे। वहीं हिमाचल में भी 4 जून को बीजेपी की सरकार बनेगी।

4 जून को हिमाचल में होगा सत्ता परिवर्तन

बता दें कि देश सहित हिमाचल में भी लोकसभा चुनावों की घोषणा हो चुकी है। पहाड़ी राज्य हिमाचल में सातवें और आखिरी चरण में पहली जून को लोकसभा के साथ साथ छह विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव होने जा रहे हैं। 4 जून को इन चुनावों का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। इस सब के बीच अब नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने बड़ा दावा कर राजनीतिक गलियारों में भूचाल ला दिया है।

उपचुनाव में बीजेपी हासिल करेगी जीत

जयराम ठाकुर ने कहा है कि केंद्र में तीसरी बार बीजेपी की सरकार बनेगी और नरेंद्र मोदी पीएम पद की शपथ लेंगे। वहीं 4 जून को हिमाचल में भी बीजेपी की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि हिमाचल में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व वाली सरकार अब अल्पमत में है। जयराम ठाकुर ने दावा किया है कि पहली जून को छह विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में बीजेपी जीत हासिल करेगी और प्रदेश में बीजेपी की सरकार दोबारा सत्ता में आएगी।

बागियों को टिकट देने पर क्या बोले जयराम ठाकुर

इस सब के बीच जयराम ठाकुर ने अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया है कि कांग्रेस के छह बागी विधायकों को बीजेपी विधानसभा उपचुनाव में टिकट देगी, या फिर उनमें से कुछ को लोकसभा चुनाव लड़वाएगी। टिकट देने पर नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि टिकट देने का फैसला आलाकमान का है। लेकिन उन्होंने इतना जरूर दावा किया है कि देश के साथ साथ हिमाचल में भी बीजेपी की सरकार बनेगी।

हिमाचल में पहली बार बनी ऐसी स्थिति

राजनीतिज्ञों का कहना है कि प्रदेश में ऐसी स्थिति पहली बार बनी है। हिमाचल में पैदा हुए इस सारे सियासी घटनाक्रम में भारतीय जनता पार्टी के पास खोने के लिए कुछ नहीं है, लेकिन सत्ता में बैठी कांग्रेस के हाथ से प्रदेश की बागडोर छिन्न सकती है। लोकसभा के साथ साथ विधानसभा के उपचुनाव कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती हैं। कांग्रेस को बहुमत हासिल करने के लिए उपचुनाव में अपनी पूरी ताकत झोकनी होगी।

क्या हैं हिमाचल की राजनीति के समीकरण

बता दें कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा में कुल 68 सीट हैं। सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी के पास 35 विधायकों का होना जरूरी है। विधानसभा अध्यक्ष द्वारा छह विधायकों की सदस्यता रद्द करने के बाद अब मौजूदा समय में विधानसभा की संख्या 62 रह गई है।

इनमें कांग्रेस के 34, भाजपा के 25 और तीन निर्दलीय विधायक शामिल है। हालांकि तीनों निर्दलीय विधायकों को समर्थन बीजेपी को मिल चुका है। वहीं, कांग्रेस के कुल 34 विधायकों में एक विधानसभा अध्यक्ष भी हैं। विधानसभा अध्यक्ष आंकड़ा बराबर होने की स्थिति में ही वोट करते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments