Thursday, July 18, 2024
spot_img
Homeविविध15KG बैग लेकर पैदल खाटू श्याम के दर्शन को निकली हिमाचली बेटी,...

15KG बैग लेकर पैदल खाटू श्याम के दर्शन को निकली हिमाचली बेटी, 600 किमी है दूरी

शाटू श्याम पहुंचने के लिए उसे 15 दिन का समय लगेगा। इस दौरान वह 600 किलोमीटर की दूरी पैदल तय करेगी। हालांकि वापसी पर वह पैदल नहीं आएगी।

सोलन/ शिमला। हिमाचल को देवभूमि भी कहा जाता है। यहां के लोगों में भगवान के प्रति आस्था कूट कूट कर भरी हुई है। हर साल लाखों लोग मंदिरों में जाकर भगवान के दर्शन करते हैं। कुछ लोगों में तो इतनी अगाढ़ आस्था होती है कि वह कई सौ किलोमीटर की पैदल यात्रा कर भगवान के घर पहुंच जाते हैं। ऐसी एक श्रद्धालु हिमाचल की राजधानी शिमला की रहने वाली शीतल है।

शिमला से खाटू श्याम के दर्शन को पैदल निकली युवती

शिमला के मीडिल बाजार की रहने वाली शीतल वर्मा ने पैदल ही खाटू श्याम की यात्रा करने का फैसला लिया है। शीतल वर्मा ने अपनी इस यात्रा की शुरूआत बीते रोज शिमला जिला से शुरू कर दी है। एक दिन में शीतल वर्मा ने 55 किलोमीटर का सफर तय कर सोलन पहुंच गई है। इससे पहले कंडाघाट पहुंचने पर खाटू श्याम के एक भक्त ने उनका जोरदार स्वागत किया। यहां आराम करने के बाद शीतल अब सोलन पहुंची है।

15 दिन में 600 किमी तय करेगी दूरी

अपनी इस यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए शीतल वर्मा ने बताया कि उसने 13 मार्च, 2024 से शिमला से अपनी पैदल यात्रा शुरू की है। शाटू श्याम पहुंचने के लिए उसे 15 दिन का समय लगेगा। इस दौरान वह 600 किलोमीटर की दूरी पैदल तय करेगी। हालांकि वापसी पर वह पैदल नहीं आएगी। शाटू श्याम के दर्शन करने के बाद वह वाहन में वापस शिमला लौटेगी।

नशे में धंसते युवाओं से की यह अपील

शीतल वर्मा ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी नशे के दलदल में धंसती जा रही है। शीतल ने युवाओं से आह्वान किया है कि वह खेलकूद के साथ साथ धार्मिक यात्राओं में शामिल हों। इससे ना सिर्फ उनका स्वास्थ्य ठीक रहेगा, बल्कि भगवान के प्रति आस्था भी बढ़ेगी और उन्हें नशे से दूर होने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि युवाओं को भक्ति का नशा होना चाहिए।

सोलन में हुआ जोरदार स्वागत

बता दें कि आज सोलन में पहुंचने पर शीतल का जोरदार स्वागत हुआ। शीतल वर्मा ने बताया कि वह 15 किलो का बैग पीठ पर उठा कर अपनी यात्रा पर निकली है। अब तक उसने एक दिन में 55 किलोमीटर का सफर तय कर लिया है। अपनी इस पैदल यात्रा की बात पर शीतल ने अपने परिजनों की प्रतिक्रिया के बारे में बात करते हुए कहा कि परिवार ने उसके अकेले पैदल यात्रा पर आपति जताई थी।

एक दिन में तय की 55 किमी दूरी

वहीं सोलन में शीतल वर्मा का स्वागत करने वाले शख्स ने बताया कि यह बहुत अच्छी बात है कि एक लड़की बिना किसी लोभ लालच के दर्शन के लिए निकली हैं। सोलन शहर में उनका स्वागत किया है। युवा धर्म के मार्ग पर चले हैं, यह अच्छी बात है। 600 किमी यात्रा अकेले करना बड़ी बात है। श्याम बाबा के भक्त हर जगह बैठे हैं और हिमाचल की इस बेटी की हर कोई मदद करेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments