Thursday, July 18, 2024
spot_img
Homeअपराधहिमाचल: नहर में डूबा बेटा, पिता के पास देह घर ले जाने...

हिमाचल: नहर में डूबा बेटा, पिता के पास देह घर ले जाने के नहीं थे पैसे; जंगल में दफनाई

ऊना। गरीबी किसी इंसान को इतना लाचार बना देती है कि उसे ना चाहते हुए भी वह काम करना पड़ता है, जिसके बारे में किसी ने सोचा ना भी हो। ऐसा ही कुछ हिमाचल के ऊना जिला के अंब निवासी एक पिता ने किया। दरअसल इस शख्स के जवान बेटे की नहर में डूबने से मौत हो गई थी।

अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को घर तक गाड़ी में ले जाने के लिए पैसे नहीं थे। जिसके चलते शख्स ने बीच रास्ते में ही जंगल में अपने लाडले बेटे के शव को जमीन में दफना दिया। मामला पुलिस थाना अंब के तहत सामने आया है।

चार माह पहले दफनाए शव का हुआ पर्दाफाश

यह मामला चार माह पहले का है। लेकिन इसका खुलासा अभी हुआ है। कुछ लोग ज्वार के जंगल में अपने पशुओं को चराने के लिए गए थे। जिस स्थान पर शख्स ने बेटे को दफनाया था, वहां पर पशुओं को चराने गए लोगों को कुछ गड़बड़ लगी तो उन्होंने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर नर कंकाल को कब्जे में लिया और फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंच कर साक्ष्य जुटाए। पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी।

मैड़ी मेले में तंबू लगाए बैठा था निर्धन पिता

इसी बीच अंब मैड़ी मेले में व्यवस्था जांच रही पुलिस को तंबू लगाकर बैठे व्यक्ति पर नशा बेचने का शक हुआ। जिस पर पुलिस ने तंबू लगाए व्यक्ति से सख्ती से पूछताछ की। पूछताछ में ही व्यक्ति ने बेटे के शव को जंगल में दफनाने की बात का पदार्फाश किया। जिसके चलते पुलिस ने जंगल में मिले शव मामले को भी सुलझा लिया।

25 साल के बेटे की डूबने से हुई थी मौत

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दफनाया गया शव सूरज सिंह (25) पुत्र पिल्ले सिंह का था। मृतक की मौत तलवाड़ा नहर में डूबने से हुई थी। मृतक अपने साले के साथ नहर में नहाने के लिए गया था और वह वहीं पर डूब गया।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: दो दोस्तों में हुआ झगड़ा, फिर एक ने दूसरे को भेज दिया परलोक

पोस्टमार्टम के बाद परिवारिक सदस्य शव को गाड़ी में रखकर अपने डेरे कलखर जिला मंडी ले जाने लगे, लेकिन उनके पास पैसे नहीं थे। जिसके चलते उन्होंने बीच रास्ते ज्वार के जंगल में ही बेटे के शव को दफना दिया और खुद बस में बैठकर मंडी चले गए।

पुलिस कर रही मामले की जांच

मृतक युवक का पिता सडक़ किनारे तंबू लगाकर जोड़ो के दर्द की देसी दवाइयां बेचने का काम करता है। मृतक के पिता ने अपनी सारी दास्तां सुनाकर उक्त सारी घटना की जिम्मेदारी कबूल कर ली है। एसएचओ गौरव भारद्वाज ने बताया कि ज्वार में लाश दफनाने के मामले का पर्दाफाश हो गया है। उक्त घटना को लेकर आगामी कार्रवाई जारी है।

https://www.facebook.com/news4himalayans

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments