Wednesday, July 24, 2024
spot_img
Homeयूटिलिटीहिमाचल: दंपत्ति ने एक साथ छोड़ी दुनिया, पत्नी के निधन के चंद...

हिमाचल: दंपत्ति ने एक साथ छोड़ी दुनिया, पत्नी के निधन के चंद घंटों बाद पति ने तोड़ा दम

मंडी। कहते हैं कि जिंदगी और मौत का समय किसी को पता नहीं होता है, फिर भी अकसर पति पत्नी साथ जीने मरने की कसमें खाते हैं। लेकिन ऐसे बहुत ही कम दंपत्ति होते हैं जो एक साथ इस दुनिया को अलविदा कहते हैं।

ऐसा ही एक दंपत्ति हिमाचल के मंडी जिला का है। इस दंपत्ति ने एक साथ उम्र गुजारने के बाद इस दुनिया को भी एक साथ ही अलविदा कह दिया। यहां पहले पत्नी की मौत हुई और उसके कुछ ही घंटों बाद पति ने भी दम तोड़ दिया।

पति पत्नी ने एक साथ दुनिया को कहा अलविदा

मामला मंडी जिला के धर्मपुर उपमंडल के टिहरा क्षेत्र के कोट गांव का है। यहां एक ही दिन में पति पत्नी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। दोपहर को पत्नी का अंतिम संस्कार किया गया, तो शाम को पति की मौत के बाद उसी दिन उनका भी अंतिम संस्कार कर दिया गया। दोनों की मौत की पूरे क्षेत्र में काफी चर्चा हो रही है।

पूर्व सैनिक थे पूर्ण चंद पठानिया

बताया जा रहा है कि कोट गांव की 73 वर्षीय कमला देवी और उसके 81 वर्षीय पति पूर्ण चंद पठानिया जो कि पूर्व सैनिक थे ने कुछ ही घंटों के अंतराल में इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

यह भी पढ़ें: 34 साल की शादी पर आशिकी भारी: प्रेमी ने पति के पेट में घुसा दी कांच की बोतल

बताया जा रहा है कि पूर्ण चंद पठानिया कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे। इसी बीच 14 मई को पूर्ण चंद की पत्नी कमला देवी को भी सांस लेने में दिक्कत होने लगी।

मां की अचानक बिगड़ी थी तबीयत

मां की बिगड़ती तबीयत को देखते हुए बेटा सुरेश कुमार पठानिया चिकित्सक को लाने के लिए टिहरा चला गया। करीब आधे घंटे बाद जब वह चिकित्सक को साथ लेकर घर पहुंचा तो मां की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई थी और उनका शुगर लेवल बहुत कम हो रहा था। हालांकि चिकित्सक ने इलाज शुरू कर दिया, लेकिन फिर भी कुछ ही देर में कमला देवी की मौत हो गई।

दोपहर में पत्नी, शाम को पति का अंतिम संस्कार

इसी बीच दोपहर को कमला देवी का अंतिम संस्कार किया गया। पत्नी के अंतिम संस्कार के बाद पूर्व सैनिक पति पूर्ण चंद पठानिया की तबीयत भी बिगड़ने लगी। जिसके चलते बेटा सुरेश उन्हें हमीरपुर अस्पताल ले गए।

यह भी पढ़ें: बाइक लेकर घर से निकाला था 26 वर्षीय विशाल, झाड़ियों में मिली देह

लेकिन यहां पहुंचते ही उनकी भी मौत हो गई। ऐसे में पूर्ण चंद पठानिया का अंतिम संस्कार भी उसी दिन शाम के समय कर दिया गया।

पोती की शादी का था इंतजार

एक तरफ पति पत्नी की मौत से पूरे घर में मातम पसर गया, वहीं दूसरी तरफ लोगों में यह चर्चा भी आम थी कि दोनों पति पत्नी नसीबों वाले थे, जो एक साथ ही इस दुनिया को अलविदा कह गए। वहीं बेटे सुरेश कुमार ने बताया कि माता पिता को पोती की शादी का इंतजार था। लेकिन वह पोती की शादी करवाने से पहले ही इस दुनिया को छोड़ गए।

पेज पर जाने के लिए यहां क्लिक करें

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments